हनीप्रीत ने पूछताछ में भी पुलिस को घुमाया, 38 दिन कहां-कहां रही, ये बताया

चंडीगढ़: पिछले काफी समय से पुलिस के साथ आंख-मिचौली खेल रही हनीप्रीत आखिरकार हरियाणा पुलिस के हत्थे चढ़ ही गई। हरियाणा पुलिस ने हनीप्रीत को उसके सरेंडर करने से पहले ही पंजाब के जीरकपुर-पटियाला रोड से गिरफ्तार कर लिया। पंचकूला के पुलिस कमिश्नर ए.एस. चावला ने प्रैस कॉन्फ्रैंस कर बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि हनीप्रीत जीरकपुर-पटियाला रोड से चंडीगढ़ की तरफ जा रही है। इसके बाद एसआईटी हेड मुकेश ने अपनी टीम के साथ उसका पीछा किया और करीब 3 बजे उसे गिरफ्तार कर लिया। उ सके साथ गाड़ी में एक और महिला थी। दोनों से पुलिस हिरासत में पूछताछ की जाएगी। पुलिस कमिश्नर चावला ने कहा कि बुधवार को हनीप्रीत को पंचकूला कोर्ट में पेश किया जाएगा और पुलिस उसकी रिमांड मांगेगी। उन्होंने कहा कि हमारी प्राथमिकता पंचकूला में हुई हिंसा के संबंध में जांच करना है। हनीप्रीत आज सरेंडर करने वाली थी लेकिन पुलिस ने सब जगह नाकेबंदी की हुई थी, हर जगह बैरिकेट लगाए गए थे। पुलिस इस बार पूरी तरह से मुस्तैद थी, ताकि वो फिर चकमा देकर भाग न निकले। सात राज्यों की पुलिस पिछले 38 दिनों से राम रहीम की हनीप्रीत को खोज रही थी लेकिन वह कहां छिपी बैठी थी किसी को उसका पता-ठिकाना मालूम नहीं था। मंगलवार को उसने एक हिंदी न्यूज चैनल को इंटरव्यू दिया और अपने ऊपर लगे आरोपों पर सफाई दी।
हनीप्रीत इतने दिन कहां थी के सवाल पर उसने कहा कि वह डिप्रेशन में थी और संभलने के बाद सामने आई। उल्लेखनीय है हनीप्रीत ने बचने के लिए सबसे पहले दिल्ली हाईकोर्ट में दांव खेला लेकिन कोर्ट ने उसकी अग्रिम जमानत की याचिका खारिज कर दी। दिल्ली हाईकोर्ट ने हनीप्रीत को सरेंडर करने की नसीहत दी थी। हनीप्रीत पर देशद्रोह और पंचकूला में हिंसा भड़काने का आरोप है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *